आरोग्य सेतु एक COVID-19 ट्रैकर ऐप है.

आरोग्य सेतु ऐप के ज़रिए जुटाए गए आकंड़ो की सुरक्षा को लेकर कई पक्षों द्वारा चिंता जताई जा रही थी, जिसको ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा गाइडलाइंस जारी की गई है…

सरकार ने सोमवार को आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu App) के ज़रिए जुटाए गए डेटा के प्रोसेसिंग पर गाइडलाइंस जारी की है. इसमें इस ऐप के ज़रिए जुटाए गए डेटा को 6 महीने से ज्यादा स्टोर (data store) करने पर प्रतिबंध लगाया गया है और कुछ खास नियमों के उल्लंघन पर जेल का प्रावधान किया गया है. बता दें कि आरोग्य सेतु ऐप के ज़रिए जुटाए गए आकंड़ो की सुरक्षा को लेकर कई पक्षों द्वारा चिंता जताई जा रही थी, जिसको ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस में एक विकल्प ये भी दिया गया है कि कोई भी व्यक्ति आरोग्य सेतु ऐप से अपने डेटा हटाने के लिए आवेदन कर सकता है और इस तरह के आवेदन मिलने के 30 दिनों के अंदर आरोग्य सेतु ऐप से आवेदक के डेटा को हटा दिया जाएगा.हालांकि वरिष्ठ सरकारी अधिकारी इस बात का आश्वासन दे रहे हैं कि निजता की सुरक्षा आरोग्य सेतु ऐप का अहम पक्ष है. मिनिस्ट्ररी ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी के सचिव अजय प्रकाश साहनी ने रिपोर्टरों से हुई बातचीत में कहा कि आरोग्य सेतु ऐप के डेटा को सुरक्षित रखने के लिए काफी काम किया गया है. लोगों की व्यक्तिगत जानकारियों को दुरुप्रयोग से बचाने के लिए एक अच्छी प्राइवेसी पॉलिसी लाई गई है.(ये भी पढ़ें-शानदार ट्रिक! फोन की स्पीड बढ़ानी है तो अभी डिलीट कर दें फोन का ये एक फोल्डर)  उन्होंने आगे कहा कि आरोग्य सेतु ऐप में डेटा प्राइवेसी को काफी अहमियत दी गई है. हम इस ऐप से प्राप्त सूचनाओं को हॉटस्पॉट एरिया की पहचान के लिए उपयोग में लाते हैं.आरोग्य सेतु ऐप के संदर्भ में जारी नए दिशा-निर्देशों में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों और संक्रमित लोगों के संपर्क में आए दूसरे लोगों से संबंधित सिर्फ डेमोग्राफिक, लोगों के कॉन्टेक्ट, सेल्फ एसेसमेंट और लोकेशन से संबंधित सूचनाओं का संग्रह करने की अनुमति दी गई है.आज की तिथि तक करीब 9.8 करोड़ लोगों ने आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड किया है. COVID-19 कन्टेनमेंट जोन में आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करना अनिवार्य  बना दिया है. ये ऐप किसी कोरोना संक्रमण ग्रस्त के व्यक्ति के संपर्क में आने पर यूज़र्स को अलर्ट जारी कर देता है.(ये भी पढ़ें- ज़बरदस्त ऑफर! सिर्फ 22,999 रुपये का हुआ सैमसंग का 63 हज़ार वाला धांसू स्मार्टफोन)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: May 12, 2020, 1:27 PM IST